Hoshiarpur

फतेहगढ़ साहिब और होशियारपुर हलकों में कांग्रेस की चुनाव मुहिम को शिखरों पर पहुंचाया- राहुल

’84 के दंगों के दोषियों को सज़ा दी जानी चाहिए और दी जायेगी -राहुल गांधी
सैम पित्रोदा की ‘हुआ तो हुआ ’ टिप्पणी को बेहद शर्मनाक बताया
फतेहगढ़ साहिब और होशियारपुर हलकों में कांग्रेस की चुनाव मुहिम को शिखरों पर पहुंचाया
‘न्याय’ कांग्रेस का गरीबी पर सर्जिकल स्ट्राईक होगा – राहुल
कैप्टन अमरिन्दर सिंह द्वारा सभी वादे पूरे करने का भरोसा
कांग्रेस केंद्र में आने के बाद ‘एक रैंक, एक पैंशन’ सही मायनों में लागू होगी
होशियारपुर-दलजीत अजनोहा- पिछले पाँच सालों से लगातार लोगों के साथ फऱेब करने और ढीठता के साथ झूठ बोलने के लिए नरेंद्र मोदी पर ताबड़-तोड़ हमले करते हुए कांग्रेस के प्रधान राहुल गांधी ने ऐलान किया है कि 1984 के दंगों के दोषियों को लाजि़मी तौर पर सज़ा मिलनी चाहिए। उन्होंने फिर दोहराया कि इस दुखांत संबंधी सैम पित्रोदा की ‘हुआ तो हुआ ’ टिप्पणी बहुत शर्मनाक है।
इन दंगों को पूरी तरह गलत और दुखदायी बताते हुए राहुल गांधी ने कहा कि पित्रोदा को ’84 के दंगों संबंधी इस टिप्पणी के लिए शर्म आनी चाहिए और उसे माफी मंागनी चाहिए। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह और कुल हिंद कांग्रेस कमेटी की सचिव और पंजाब की इंचार्ज आशा कुमारी की हाजिऱी में राहुल ने कहा कि उन्होंने खुद पित्रोदा को इस संबंधी माफी मांगने के लिए कहा है क्योंकि इस विवादपूर्ण टिप्पणी के सम्बन्ध में भारत के लोग ऐसा चाहते हैं और यह माँगी भी जानी चाहिए।
फतेहगढ़ साहिब से कांग्रेस के उम्मीदवार डा. अमर सिंह और होशियारपुर से डा. राज कुमार चब्बेवाल और जालंधर से संतोख सिंह चौधरी के समर्थन में चुनाव रैलियों को संबोधन करते हुए उन्होंने कहा कि इन दंगों के जि़म्मेदार दोषियों को सज़ा दी जायेगी।
19 मई को पंजाब में हो रहे चुनाव के सम्बन्ध में लोकसभा मतदान के लिए कांग्रेस पार्टी की मुहिम को और बढ़ावा देते हुए राहुल गांधी ने कहा कि यह मतदान झूठे वादों और तर्कमयी वचनबद्धता के बीच विचारधारा की लड़ाई है। मोदी और भाजपा ने भारत के लोगों को झूठ बोल -बोल कर और झूठे निंदा प्रचार से ठगा है जबकि कांग्रेस पार्टी हमेशा ही अपने वादों के प्रति ईमानदार रही है। राहुल गांधी ने इस दौरान ‘चौकीदार चोर है ’ का भी ऐलान किया।
अपने ताबड़तोड़ भाषण में कांग्रेस के प्रधान ने कहा कि चौकीदार पूरी तरह नंगा हो गया है और उस संबंधी लोग सच्चाई जानने लग पड़े हैं। उन्होंने कहा कि वह नोटबन्दी और जी.एस.टी से लोगों द्वारा की गई मेहनत की कमाई को चोरी करने से बच कर भाग नहीं सकता। उसने राफेल सौदे से अनिल अम्बानी को 30 हज़ार करोड़ रुपए का फ़ायदा पहुँचाया है।
राहुल गांधी ने कहा कि सिफऱ् वह और कांग्रेस पार्टी के वर्कर ही उसके विरुद्ध नहीं लड़ रहे बल्कि वह सभी लोग प्रधानमंत्री के विरुद्ध लड़ रहे हैं जिनको उसने धोखा दिया है। राहुल ने कहा कि वह सिफऱ् लड़ रहे लोगों के साथ इस लड़ाई में खड़े हैं जिसको मोदी पहले ही हार चुका है।
राहुल ने कहा कि मोदी उस समय पूरी तरह मूक दर्शक बन कर देखता रहा जब दलितों और अल्पसंख्यकों पर हमले किये जा रहे थे जिस कारण लोग उसे कभी माफ नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि नौजवानों को नौकरियाँ और वज़ीफों से वंचित रखा जा रहा है जबकि किसान आत्महत्याएँ कर रहे हैं। इसके विरुद्ध बोलने वाले किसानों को सलाखों के पीछे डाला जा रहा है और लोगों के मेहनत के पैसों की लूट की जा रही है।
राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने नोटबन्दी और जी.एस.टी के साथ आम लोगों को लूटा है और लोगों की मेहनत की कमाई की रकम अम्बानी, मालिया, चौकसी और नीरव मोदी जैसे पर लुटायी है। उन्होंने कहा कि मोदी अब भ्रष्टाचार और राफेल जैसे मुद्दों पर हमारे साथ बहस से भी भाग गया है और उसके पास हमारे सवालों का कोई भी जवाब नहीं है।
देश और इसकी आर्थिकता को तबाह करने के लिए मोदी पर तीखे हमले करते हुए कांग्रेस प्रधान ने मोदी द्वारा न पूरे किये गए वादों की लिस्ट गिनायी जिसमें हर साल नौजवानों को 2 करोड़ नौकरियाँ और हरेक व्यक्ति के खाते में 15 लाख रुपए आने का वादा भी शामिल था। उन्होंने मोदी को कोई और मौका देने के विरुद्ध लोगों को सावधान किया।
राहुल गांधी ने कहा कि नोटबन्दी के दौरान आम लोगों को लाईनों में खड़े होना पड़ा, नौजवानों को अपनी नौकरियों से हाथ धोना पड़ा, छोटे व्यापारियों और दुकानदारों को जी.एस.टी के नतीजे के तौर पर अपना काम बंद करना पड़ा जबकि मोदी के इन पाँच सालों के दौरान ही 15 अमीर उद्योगपतियों ने अपनी जेबों में करोड़ों रुपए डाल लिए।
रोजग़ार के पक्ष से अति चिंताजनक स्थिति का जि़क्र करते हुए राहुल ने कहा कि यह पिछले 45 सालों की सबसे गंभीर स्थिति है और कांग्रेस पार्टी अपनी ‘न्याय’ स्कीम के साथ अगले पाँच सालों के दौरान हर साल पाँच करोड़ परिवारों को 72 -72 हज़ार रुपए यकीनी बनाऐगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी द्वारा नौजवानों के लिए रोजग़ार यकीनी बनाया जायेगा और दुकानदारों के लिए अपना काम करने को भी आसान बनाया जायेगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी द्वारा लोगों की खरीद शक्ति बढ़ाई जायेगी। ‘न्याय’ उन लोगों को रोजग़ार देगा जिनको नोटबन्दी के कारण नौकरियों से वंचित किया गया।
राहुल गांधी ने ऐलान किया कि मोदी चाहे सर्जीकल स्ट्राईक की बात कर रहे हैं परन्तु कांग्रेस पार्टी द्वारा असली सर्जीकल स्ट्राईक गरीबी पर करने की तैयारी की जा रही है और न्याय योजना मुल्क में से गरीबी का मुकम्मल ख़ात्मा कर देगी। ‘न्याय’ योजना ट्रैक्टर में डीज़ल की तरह काम करेगी जो भारत की आर्थिकता को दोबारा पैरों पर खड़ा करने के साथ-साथ मुल्क को फिर सांसारिक आर्थिक शक्ति बनाने के रास्ते पर चलाएगी जैसे कि सरदार मनमोहन सिंह के नेतृत्व वाली यू.पी.ए. सरकार के समय पर हुआ था। राहुल गांधी ने कहा कि इसके साथ मोदी सरकार द्वारा किये गए नुक्सान की भरपायी होगी।
आदिवासियों और दलितों को न्याय का अधिक-से -अधिक लाभ देने का वादा करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस चाहती है कि भारत का हरेक नागरिक सपना लेने के लिए आज़ाद हो और गरीबी से मुक्त हो।
कांग्रेस के हितों की रक्षा के लिए कांग्रेस पार्टी की वचनबद्धता ज़ाहिर करते हुए पार्टी के राष्ट्रीय प्रधान ने कहा कि कांग्रेस ने राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में सत्ता संभालने के दो दिनों के अंदर ही किसानों का कजऱ् माफ कर दिया। उन्होंने कहा कि पार्टी यहीं नहीं रुकेगी और यदि केंद्र में भी सरकार बनी जिससे किसानों की फसलों की उचित कीमत यकीनी बनाने के अलावा उनके लिए अलग बजट होने का वादा भी पूरा किया जायेगा।
भाजपा के शिवराज चौहान द्वारा मध्य प्रदेश में किसानों के लिए कजऱ् माफी स्कीम को छलावा बताने के दोषों का जि़क्र करते हुए राहुल गांधी ने बताया कि वहाँ के मुख्यमंत्री कमलनाथ की सरकार में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज चौहान के अपने पारिवारिक सदस्यों को भी कजऱ् माफी का लाभ मिला। राहुल गांधी ने यह भी ऐलान किया कि किसी भी राज्य, धर्म या जाति के साथ सम्बन्धित किसी भी किसान द्वारा कजऱ् न चुका सकने की सूरत में जेल नहीं भेजा जायेगा।
मनरेगा का मज़ाक उड़ाने पर मोदी पर चोट करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि यदि उनकी पार्टी सत्ता में आई तो मनरेगा के अंतर्गत 100 दिन की बजाय 150 दिन रोजग़ार मुहैया करवाया जायेगा। उन्होंने कांग्रेस के सत्ता में आने के एक साल के अंदर 22 लाख सरकारी पद भरने के अलावा पंचायतों में और 10 लाख नौकरियाँ दी जाएंगी।
पंजाब में कैप्टन अमरिन्दर सिंह की सरकार द्वारा आरंभ किये गए रोजग़ार प्रयासों की श्लाघा करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि उद्योग और रोजग़ार के मौकों को फिर सुरजीत करने के लिए मुल्क भर में बहुत से कदम उठाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि स्टार्ट-अप की शुरुआत के पहले तीन सालों में किसी सरकारी इजाज़त की ज़रूरत नहीं होगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी मुल्क को फिर विकास और तरक्की की राह पर लाएगी।
होशियारपुर की रैली में बड़ी संख्या में महिला पार्टी वर्करों के सम्मिलन पर खुशी ज़ाहिर करते हुए राहुल गांधी ने राष्ट्रीय स्तर पर सरकारी नौकरियों के साथ-साथ विधानसभाओं, लोकसभा और राज्यसभा में औरतों के लिए 35 प्रतिशत आरक्षण का वादा किया।
मुख्यमंत्री ने अपने भाषण में कहा कि उनकी सरकार कांग्रेस पार्टी द्वारा विधानसभा मतदान से पहले किये गए सभी वादों को पूरा करेगी। उन्होंने कहा कि अभी उनकी सरकार के तीन साल पड़े हैं और अपना कार्यकाल ख़त्म होने तक लोगों के साथ किया गया एक -एक वादा पूरा किया जायेगा। पंजाब सरकार ने अपने दो सालों के कार्यकाल में कजऱ् माफी स्कीम शुरू करके 10.25 लाख छोटे और सीमांत किसानों में से बहुत से किसानों का कजऱ् माफ कर दिया है।
कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा उनकी सरकार की सबसे प्रमुख प्राथमिकता रोजग़ार मुहैया करवाना है और सरकार द्वारा नौजवानों को रोजग़ार की सुविधा देने के लिए किये जा रहे यत्नों का जि़क्र करते हुए कहा कि राज्यभर में चार रोजग़ार मेले लगाए जा चुके हैं और अब तक 8.25 लाख नौजवानों को रोजग़ार दिया जा चुका है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा विदेश जाने के इच्छुक नौजवानों की सुविधा के लिए भी दफ़्तर खोले गए हैं जिससे वह ग़ैर-कानूनी एजेंटों के हाथों न चढेें। उन्होंने बताया कि उनकी सरकार द्वारा किये गए एम.ओ.यू. में से 78 प्रतिशत समझौते ज़मीनी स्तर पर अमल में आने शुरू हो गए हैं और उद्योग की पुन: स्थापति के लिए यत्न किये जा रहे हैं जिससे राज्य की आर्थिकता मज़बूत होने के साथ-साथ रोजग़ार के मौके पैदा होंगे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र के 1.30 लाख बेघर परिवारों के लिए 5-5 मरले के प्लॉट का वादा जल्दी अमल में लाया जा रहा है जबकि लोकसभा मतदान से तुरंत बाद नौजवानों को मोबाईल बाँटने के पहले पढ़ाव की शुरुआत की जायेगी। कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि पहले दो सालों में सभी वादे पूरे करने संभव नहीं हैं परन्तु एक -एक वादा पूरा करने को यकीनी बनाने के लिए वह निजी तौर पर वचनबद्ध हैं और उन्होंने अपने पिछले कार्यकाल के दौरान भी ऐसा ही किया था।
कांग्रेस के चुनाव मैनीफैस्टो का जि़क्र करते हुए कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने लोगों को ‘वन रैंक, वन पैंशन’ स्कीम जल्दी लागू करने का वादा किया जिससे पूर्व सैनिकों की काफी देर की माँग पूरी की जा सके। उन्होंने कहा कि मुल्क की सरहदों की सुरक्षा हमारी फ़ौज करती है मोदी नहीं जो राष्ट्रवाद और देश भक्ति का रखवाला होने का ढिंडोरा पीटता है।
भारत की धर्म निष्पक्षता विलक्षणता को बचाने की ज़रूरत पर ज़ोर देते हुए मुख्यमंत्री ने मुल्क की एकता को खंडित करने की की जा रही कोशिशों के लिए मोदी की सख्त आलोचना की। उन्होंने कहा कि यह मतदान प्यार और नफऱत और एकता और विघटनकारी शक्तियों के दरमियान हैं।
Tags