भगवान परशुराम पार्क में लगाये पौधेफगवाड़ा 17 जून (शिव कौड़ा) भारत-चीन सीमा पर गलवान घाटी में दोनों देशों की फौज के मध्य हुई खूनी झड़प में शहीद हुए बीस भारतीय सैनिकों को श्रद्धांजली स्वरूप आज वार्ड नंबर 21 के पूर्व पार्षद अनुराग मनखंड की अगवाई में स्थानीय हरगोबिंद नगर स्थित भगवान परशुराम पार्क में पौधारोपण किया गया। इस दौरान अनुराग मनखंड ने कहा कि एक तरफ भारत कोरोना से जंग लड़ रहा है तो दूसरी तरफ चीन भारत पर युद्ध थोपना चाहता है। भारतीय फौज के एक अधिकारी सहित बीस जवानों की शहादत से पूरा देश शोक में है। इसी के मद्देनकार परशुराम सेना के सहयोग से पार्क में पौधारोपण करके शहीदों को नमन किया गया है। उन्होंने बताया कि पर्यावरण को शुद्ध करने तथा अत्याधिक आक्सीजन पैदा करने वाले नीम, बिल्वपत्र, गलोय, कटहल आदि के पौधे लगाये गए हैं। उन्होंने भारत सरकार से जहां चीन को करारा जवाब देने की मांग की वहीं देशवासियों से भी पुरजोर अपील कर कहा कि चीन को सबक सिखाने के लिये स्वदेशी को अपनाया जाए। मेड इन चाईना का बायकाट किया जाए। चीनी उत्पादों तथा चीनी वैबसाईटों का बायकाट करना इस धुर्त पड़ोसी देश पर बड़ा आर्थिक प्रहार होगा। ऐसा करके जहां हर भारतवासी अपने शहीद हुए जवानों का बदला ले सकेगा वहीं भारतीय उत्पादों की खरीद को बढ़ावा मिलेगा जिससे भारत एक नई आर्थिक शक्ति बनकर उभरेगा और चीन जैसा देश दोबारा भारत की तरफ आंख उठा कर देखने की हिम्मत नहीं कर सकेगा।"/>
Kapurthala

अनुराग मनखंड की अगवाई में पौधारोपण करके दी बीस शहीद भारतीय जवानों को श्रद्धांजली

भगवान परशुराम पार्क में लगाये पौधेफगवाड़ा 17 जून (शिव कौड़ा) भारत-चीन सीमा पर गलवान घाटी में दोनों देशों की फौज के मध्य हुई खूनी झड़प में शहीद हुए बीस भारतीय सैनिकों को श्रद्धांजली स्वरूप आज वार्ड नंबर 21 के पूर्व पार्षद अनुराग मनखंड की अगवाई में स्थानीय हरगोबिंद नगर स्थित भगवान परशुराम पार्क में पौधारोपण किया गया। इस दौरान अनुराग मनखंड ने कहा कि एक तरफ भारत कोरोना से जंग लड़ रहा है तो दूसरी तरफ चीन भारत पर युद्ध थोपना चाहता है। भारतीय फौज के एक अधिकारी सहित बीस जवानों की शहादत से पूरा देश शोक में है। इसी के मद्देनकार परशुराम सेना के सहयोग से पार्क में पौधारोपण करके शहीदों को नमन किया गया है। उन्होंने बताया कि पर्यावरण को शुद्ध करने तथा अत्याधिक आक्सीजन पैदा करने वाले नीम, बिल्वपत्र, गलोय, कटहल आदि के पौधे लगाये गए हैं। उन्होंने भारत सरकार से जहां चीन को करारा जवाब देने की मांग की वहीं देशवासियों से भी पुरजोर अपील कर कहा कि चीन को सबक सिखाने के लिये स्वदेशी को अपनाया जाए। मेड इन चाईना का बायकाट किया जाए। चीनी उत्पादों तथा चीनी वैबसाईटों का बायकाट करना इस धुर्त पड़ोसी देश पर बड़ा आर्थिक प्रहार होगा। ऐसा करके जहां हर भारतवासी अपने शहीद हुए जवानों का बदला ले सकेगा वहीं भारतीय उत्पादों की खरीद को बढ़ावा मिलेगा जिससे भारत एक नई आर्थिक शक्ति बनकर उभरेगा और चीन जैसा देश दोबारा भारत की तरफ आंख उठा कर देखने की हिम्मत नहीं कर सकेगा।
Tags